Breaking News

Breast cancer symptoms in hindi l ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों को पहचाने और इस घातक बीमारी से बचें

Breast cancer symptoms in hindi: ब्रैस्ट कैंसर के शुरूआती लक्षणों की पहचान सही समय पर कर लिया जाए तो इस घातक बिमारी से बचा जा सकता है l

ब्रेस्ट कैंसर यानी कि स्तन कैंसर (Breast cancer symptoms in hindi), एक बहुत ही घातक बीमारी है l यदि शुरुआती दौर में इस बीमारी के लक्षणों को पहचान लिया जाए तो इस बीमारी से बचा जा सकता है l आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्तन कैंसर पश्चिमी देशों की तुलना में भारतीय महिलाओं को अक्सर बेहद ही कम उम्र में इस बीमारी का शिकार होना पड़ता है l

[caption id="attachment_949" align="alignnone" width="1239"]breast cancer symptoms in hindi, breast cancer symptoms breast cancer symptoms in hindi[/caption]

अक्सर 47 साल की उम्र में भारतीय महिलाओं को स्तन कैंसर की संभावना बढ़ जाती है l यदि हम इसकी तुलना पश्चिमी देशों की महिलाओं से करें तो उनके मुकाबले तकरीबन 10 साल पहले ही इस बीमारी का शिकार होना पड़ता है l तो चलिए जाने आखिरकार किस प्रकार स्तन कैंसर के लक्षणों को सही समय पर पहचान कर इसका इलाज कैसे किया जा सकता है l

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण / Breast cancer symptoms in hindi


यदि महिलाओं को ब्रेस्ट में दर्द या गांठ जरा सा भी महसूस हो तो ऐसे में अक्सर उन्हें जल्द से जल्द डॉक्टर से जरूर सलाह ले लेनी चाहिए l कभी-कभी गाँठ में दर्द महसूस नहीं होता, लेकिन छूने पर दर्द का एहसास जरूर होता है l आपकी जानकारी के लिए बता दें कि स्तनों मैं पड़ने वाली गांठ को मैमोग्राफी के जरिए पता लगाया जाता है l इसके द्वारा ब्रेस्ट कैंसर के बारे में भी पता लगाया जा सकता है l मैमोग्राफी के द्वारा जांच कराना कुछ ज्यादा महंगा भी नहीं है l यदि 30 से 35 साल की महिलाओं के स्तनों में दर्द महसूस हो तो ऐसे में अक्सर जांच जरूर करवा लेनी चाहिए l ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण कुछ इस प्रकार हैं l सामान्य तरीके से स्तनों का बढ़ना, स्तनों में गांठ और समय के अनुसार इसका आकार बदलना, स्तनों के बगल में सूजन का आ जाना, निप्पल से खून निकलना या फिर लाल पड़ना, यदि स्तनों में असामान्य मोटापन या फिर उसमें उभार आ जाए तो ऐसे में आपको तुरंत ही अपने डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिएl

[caption id="attachment_950" align="alignnone" width="2000"]breast cancer symptoms in hindi, breast cancer symptoms breast cancer symptoms in hindi[/caption]

ब्रेस्ट कैंसर का जांच और इलाज / Treatment Of Breast Cancer and Detection


30 से 35 साल की उम्र में प्रत्येक महिलाओं को ब्रेस्ट स्पेशलिस्ट डॉक्टर से अपने स्तनों की जांच अवश्य करवा लेना चाहिए l उसका एक्सरे कराना अति आवश्यक है l एक्स-रे को मोनोग्राम कहते है l आपकी जानकारी के लिए बता देगी मोनोग्राम के जरिए चावल के समान सूक्ष्म कैंसर ग्रस्त भाग का भी पता बेहद ही आसानी से लगाया जा सकता है l ऐसी स्थिति में जब कैंसर का इलाज किया जाता है तो ऐसे में स्तन को निकालने की जरूरत नहीं पड़ती l यदि ऐसी अवस्था में कैंसर के रोग का पता लग जाए तो ज्यादातर ऐसे रोगियों का इलाज सफल हो जाता है l यदि स्तन कैंसर का पता एडवांस स्टेज में चले तो ऐसे में यह काफी घातक साबित हो सकता है l इस स्थिति में डॉ ऑपरेशन के दौरान स्तन को निकाल देते हैं l

जो महिलाएं शहरों और महानगरों में रहती हैं ज्यादातर उनमें स्तन कैंसर होने की संभावना अधिक होती है l यदि महिलाएं स्तन कैंसर से बचना चाहती हैं तो इन्हें समय-समय पर स्तन कैंसर का जांच करवा लेना चाहिए l

Breast cancer symptoms in hindi से सम्बंधित कोई भी सवाल हो तो आप निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपने सवाल कर सकते है, हम जल्द से जल्द आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे l