Breaking News

Coronavirus: वैज्ञानिकों का दावा, कोरोना को शरीर में घुसने से रोक सकता है भांग, ऐसे करना होगा इस्तेमाल


कोरोना वायरस का कहर तेजी से बढ़ रहा है और इस वायरस से दुनियाभर में अब तक 5,199,016 लोग प्रभावित हो चुके हैं। चीन से महामारी बनकर निकला यह वायरस 215 देशों में फैल चुका है और इस वायरस से अब तक 334,698 लोगों की जान चली गई।
दुर्भाग्यवश कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिला है और ना ही कोई दवा या टीका उपलब्ध हो सका है. हालांकी दुनियाभर के तमाम वैज्ञानिक इसका इलाज खोजने में जुटे हैं। इस बीच कनाडा के वैज्ञानिकों की एक टीम का मानना है कि भांग एक ऐसी चीज है जो कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने और उसका इलाज करने में मदद कर सकती है।
न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार, यूनिवर्सिटी ऑफ लेथब्रिज के शोधकर्ताओं ने कहा कि अप्रैल में हुए एक अध्ययन में बताया गया है कि शोधकर्ताओं ने भांग के 13 पौधों में भारी मात्रा में सीबीडी पाया है, जो एसीई 2 (ACE2) मार्गों को प्रभावित करते हैं जिसका इस्तेमाल वायरस शरीर तक पहुंचने के लिए करते हैं।
न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार, यह अध्ययन ऑनलाइन जर्नल प्रीप्रिंट्स में प्रकाशित हुआ है जिससे संकेत मिलता है कि भांग के हेम्प पौधे के रस में सबसे ज्यादा सीबीडी मिलता है, जो प्रोटीन को ब्लॉक करने में मदद कर सकता है जो कोरोना को शरीर में घुसने के लिए रास्ता देता है।
यूएसडी नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, सीबीडी यानी कैनबिडिओल सैटिवा भांग के पौधे में मिलने वाला एक रासायनिक यौगिक है जिसका इस्तेमाल कई दवाओं में किया जाता है. यह एक प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला पदार्थ है जो तेल और खाद्य पदार्थों जैसे उत्पादों में भी उपयोग किया जाता है।
शोधकर्ताओं का कहना है कि भांग वायरस के प्रवेश बिंदुओं को 70 प्रतिशत तक कम कर सकता है। इसलिए आपको इससे लड़ने का अधिक मौका मिल सकता है।
कोरोना वायरस से बचाव के अन्य टिप्स (Coronavirus tips in Hindi)
हर किसी को मास्क पहनने की जरूरत नहीं
तभी पहनें जब खांसी, बुखार जुकाम आदि हो
कोरोना के मरीज की देखभाल कर रहे हों
आप डॉक्टर, नर्स या अन्य चिकित्साकर्मी हों
खांसी, बुखार या सांस लेने में परेशानी होने पर जांच कराएं
आपने हाल में विदेश यात्रा की हो
इसके लिए सरकार के हेल्पलाइन नंबर 011-23978046 पर फोन करें
कोरोना वायरस के लक्षण (Coronavirus symptoms in Hindi)
कोरोना वायरस के लक्षणों में बुखार, खांसी, सांस की कमी, गले में खराश, सिरदर्द, छींक आना और किडने फेलियर आदि शामिल हैं, अगर आपको ये लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो आपको यह टेस्ट कराना चाहिए। इसके अलावा अगर आप हाल ही में आपने ऐसे देश की यात्रा की है, जहां संक्रमण फैला हुआ है तो आपको किसी भी कीमत पर इसकी जांच करानी चाहिए।
कोरोना वायरस से बचने के उपाय (Coronavirus prevention tips in Hindi)
खांसने, छीकने, बीमारी व्यक्ति को हाथ लगाने, खाना बनाते समय, कूड़ा उठाने, खाने के बाद, बाहर से आने के बाद अपने हाथों को साबुन और पानी से धोयें
छींकते और खांसते समय अपने मुंह और नाक को कवर रखें
इस्तेमाल किये गए टिश्यू को बंद कूड़ेदान में फेंकें
छींकते या खांसते समय अपनी आस्तीन को ऊपर रखें
फ्लू जैसे लक्षणों से पीड़ित लोगों के पास जाने से बचें
मीट और अंडे को अच्छी तरह पकाकर खायें
मीट काटने के लिए हर बार चाकू को अच्छी तरह धोकर यूज करें
कच्चे मीट को हाथ में पकड़ने के बाद भी हाथ को अच्छी तरह धोयें
बीमार पशु का मीट खाने से बचें
किसी भी तरह के पशु उत्पाद को हाथ लगाने के बाद हाथों को धोयें
मोहल्ले के किसी भी पालतू या आवारा पशु से दूर रहें
बुखार और खांसी से पीड़ित किसी भी व्यक्ति के पास जाने से बचें
यदि आपको बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई हो रही है, तो जल्दी से चिकित्सक के पास जायें
जानवरों और फार्म में काम करने वाले लोगों से दूर रहें
कच्चे या अधपके पशु उत्पादों के सेवन से बचें
अपने घर में दिन में कम से कम दो बार पोंछा लगायें
सफाई के दौरान हाथों में ग्लव्स पहनें