Breaking News

कोरोना के मरीज ने ये खास काढ़ा पीकर मजबूत किया इम्यून सिस्टम, वायरस से जीत ली जंग, आप भी जानिये सामग्री और बनाने का तरीका


कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक तरफ जहां दुनियाभर के तमाम वैज्ञानिक दवा और वैक्सीन बनाने में जुटे हैं वहीं इसके लिए आयुर्वेदिक उपायों पर भी तेजी से काम हो रहा है। आयुष मंत्रालय कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को कोरोना के लिए प्रभावी बता चुका है।
कोरोना के कई मरीज भी खुद कई आयुर्वेदिक उपायों को अपना चुके हैं और यह कारगर भी रहा। कहा जाता है कि आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां और मसाले इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने में सहायक हैं।
कोरोना वायरस और फ्लू के लक्षण जैसे सर्दी, खांसी और बुखार को रोकने के लिए इन घरेलू उपचारों पर जोर दिया गया है। हम आपको एक ऐसे आयुर्वेदिक घरेलू उपाय के बारे में बता रहे हैं जिसे हाल ही में कोरोना की चपेट में आये एक व्यक्ति ने आजमाकर देखा है और उसे फायदा हुआ है।
यह एक तरह का काढ़ा है और मरीज ने इसका दिन में दो बार सेवन किया। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, अरशिता बी कपूर कोरोना की चपेट में थी और इलाज के दौरान उन्होंने इस काढ़े का सेवन किया। उन्होंने कहा है कि इससे कोविड से लड़ने और इम्यूनिटी पावर बढ़ाने में मदद मिल सकती है। इसे दिन में दो बार पीना चाहिए। चलिए जानते हैं इसे बनाने के लिए क्या-क्या चीजें चाहिए और इसे कैसे तैयार किया जाता है।
कोरोना से लड़ने के लिए काढ़ा बनाने की सामग्री
मोटी इलाची
ताजा हल्दी
लौंग
काली मिर्च के दाने
तुलसी
दालचीनी
अदरक
मुनक्का
शहद या गुड़
दालचीनी में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं। इलायची में गले को राहत देने में मदद करता है और शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। लौंग शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है। काली मिर्च के दाने एंटीऑक्सिडेंट का भंडार हैं और शरीर को हल्दी को अवशोषित करने में मदद करता है। तुलसी
एंटीऑक्सिडेंट का अच्छा स्रोत हैं।

काढ़ा बनाने का तरीका
- ताजी हल्दी और ताजा अदरक को छील लें। एक सिल बट्टा में इसे अच्छी तरह पीस लें।
- एक बर्तन में, पानी उबालें और हल्दी और अदरक डालें।
- अन्य सभी मसाले मिक्स करें।
- इसे 20-30 मिनट तक उबालें। मिठास के लिए गुड़ या शहद मिलाएं।
देश में कोविड-19 के मामलों की संख्या 7 लाख के पार
देश में एक दिन में कोविड-19 के मामलों में बड़ी उछाल आने के बाद सोमवार को भारत में कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या सात लाख के पार चली गई। सिर्फ चार दिन पहले देश में संक्रमितों की संख्या छह लाख पहुंची थी।
देश में संक्रमण से 20,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और सोमवार को कोविड-19 की जांच की संख्या भी एक करोड़ से अधिक हो गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, एक दिन में कोविड-19 के 24,248 मामले सामने आए जिसके बाद कुल मामलों की संख्या बढ़कर 6,97,413 हो गई।
मंत्रालय के अनुसार कोविड-19 से 425 और लोगों की मौत होने के बाद इस महामारी से मरने वालों की संख्या 19,693 हो गई है। बहरहाल, पीटीआई के आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोविड-19 के मामले 7,11,878 हो गए हैं जबकि मृतकों की संख्या 20,139 हो गई है।